अक्तुबर-2017

देशनशा     Posted: April 1, 2015

तेज रफ़्तार से आती हौंडा सिविक ने बाइक सवार दम्पती को गिरा दिया ।इस बाइक पर गर्भवती महिला अपने पति के साथ सवार थी आस पास के लोगों ने बड़ी मुश्किल से गाड़ी रुकवाई ।
गाड़ी से उनतीस -तीस वर्ष की युवती ,जो बाजू रहित टॉप और चुस्त जींस पहने थी लड़खड़ाती हुई बाहर निकली ।उसके मुह से विकट दुर्गन्ध आ रही थी । उसने अंग्रेजी में भद्दी- भद्दी गलियाँ देते हुए घृणा भाव से गर्भवती को देखा और तमतमा कर बोली –“यू डाउन मार्किट लेडी, हिम्मत कैसे की मुझे रोकने की”
उसकी इस बदतमीजी पर महिला का पति बिफरकर उसे भला- बुरा कहने लगा प्रत्युत्तर में युवती ने उस भद्र पुरुष को ही थप्पड़ जड़ दिया ।आस पास के लोगों ने उसे समझाना चाहा ,तो उसने उनसे भी धक्का -मुक्की शुरू कर दी ।इतने में युवती ने सब को छठी का दूधा पिलाने कि धमकी देकर एक फोन घुमाया और कुछ ही देर में आठ- दस युवा बाइक आ गए और पीड़ित व्यक्ति के साथ मारपीट करने लगे ।मामला बिगड़ता देख किसी ने पुलिस को फोन कर दिया ।पुलिस ने युवती और साथियों को गिरफ्तार कर लिया ।लेकिन युवती पुलिस इन्सपेक्टर को नौकरी से सस्पेंड करने की धमकी अपनी उन्ही भारी -भरकम गालियों के साथ दिए जा रही थी ।थाने में युवती से पिता का नंबर पूछ फोन लगाया गया ।पिता सांसद थे । उन्होंने जमानत देकर युवती और साथियों को छुड़वा लिया ।पीड़ित को भी कोने में ले जाकर कुछ समझा -बुझाकर चलता किया ।जाते-जाते भी युवती इन्स्पेक्टर को भद्दी -भद्दी गलियाँ दिए जा रही थी ।हेड कांस्टेबल ने इन्स्पेक्टर से कहा –“सर जी ये तो मर्दों से भी ज्यादा टल्ली निकली “
-0-

गतिविधियाँ

  • चर्चा में

    हरियाणा साहित्य-संगम में लघुकथा पर विचार -विमर्श( सुकेश साहनी और राम कुमार आत्रेय की भागीदारी ।)
    लघुकथा अनवरत-2017 का विश्व पुस्तक मेले में अयन प्रकाशन के स्टाल पर विमोचन।

  • सम्पर्क:-

    सुकेश साहनी

    185,उत्सव,महानगर पार्ट–2
    बरेली–243122 (उ.प्र.)

    sahnisukesh@gmail.com

    रामेश्वर काम्बोज ´हिमांशु´
    rdkamboj@gmail.com

    रचनाएँ भेजने के लिए पता-:-
    laghukatha89@gmail.com

    विशेष सूचना-:-
    पूर्व अनुमति के बिना लघुकथा डॉट कॉंम की सामग्री का उपयोग नहीं किया जा सकता ।

    -सम्पादक द्वय

Design by TemplateWorld and brought to you by SmashingMagazine