नवम्बर-2017

देशब्रेकिंग न्यूज़     Posted: May 2, 2017

साहब ये तो मर चुका है।बुरी तरह जल गई है बॉडी। और कार भी बिल्कुल कोयला हो गई है । आग तो SUSHAMA GUPTA JI - Copyभीषण ही लगी होगी।”कान्स्टेबल रामलाल अपने इंसपैक्टर साहब से हताश- सा बोला। बहुत भयानक बदबू फैली थी माँस जलने की। वो बदबू से बेहोश होने को था। फिर भी बड़ी हिम्मत से उसने जाँच की।
“अरे पूछ तो रामलाल के आसपास के लोगों से, कुछ देखा इन्होंने ?” इन्सपेंक्टर साहब गरजकर बोले।
भीड़ में से एक आदमी बोला-“ सर कुछ क्या सबकुछ देखा। दस मिनट में तो पूरी तरह से सब जल कर राख हो गया। हम पाँचों यहीं थे तब।”
“आप क्या कर रहें थे पाँचों यहाँ । आपने कोशिश नहीं की आग बुझाने की ?”
”सर ,आग बहुत भंयकर थी। हम असहाय थे।”
“तो आप सब खड़े देखते रहे?”
“नही सर, हमनें वीडियो बनाई है न । अलग अलग ऐंगल से।
‘बचाने की कोशिश तो कर सकते थे। वीडियो से क्या होगा।’
”ऐसे वीडियो की मीडिया में बहुत डिमांड है सर!”
-0– 327/ सेक्टर 16-ए, फ़रीदाबाद

गतिविधियाँ

  • चर्चा में

    हरियाणा साहित्य-संगम में लघुकथा पर विचार -विमर्श( सुकेश साहनी और राम कुमार आत्रेय की भागीदारी ।)
    लघुकथा अनवरत-2017 का विश्व पुस्तक मेले में अयन प्रकाशन के स्टाल पर विमोचन।

  • सम्पर्क:-

    सुकेश साहनी

    185,उत्सव,महानगर पार्ट–2
    बरेली–243122 (उ.प्र.)

    sahnisukesh@gmail.com

    रामेश्वर काम्बोज ´हिमांशु´
    rdkamboj@gmail.com

    रचनाएँ भेजने के लिए पता-:-
    laghukatha89@gmail.com

    विशेष सूचना-:-
    पूर्व अनुमति के बिना लघुकथा डॉट कॉंम की सामग्री का उपयोग नहीं किया जा सकता ।

    -सम्पादक द्वय

Design by TemplateWorld and brought to you by SmashingMagazine